आलस्य को दूर करने के 12 उपाय

आलस्य को दूर करने के 12 उपाय

  

आलस इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन है, फिर भी क्यों हर कोई कहीं कहीं जीवन के किसी मोड़ पर इसकी चपेट में ही जाता है। वैसे अगर देखा जाए, तो हमारी गलत जीवनशैली आलस का कारण है। अगर लाइफस्टाइल (lifestyle) सही हो, तो आपको हर रोज़ आलसपन महसूस होगा।

कुछ आसान से उपायों की मदद से अपने जीवन से आलस को पूरी तरह हटा सकते हैं और खुद को तरोताज़ा महसूस कर सकते हैं। आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में।

1 बिना लक्ष्य के करें कोई काम:-

हर व्यक्ति का एक लक्ष्य होता है। जब भी आप आलसपन महसूस करें, तो तुंरत खुद के लक्ष्य को याद करें। ऐसा करने से आप खुद में शक्ति महसूस करेंगे। अगर आपने अब तक कोई लक्ष्य नहीं बनाया है, तो आज ही अपना लक्ष्य बनाये।

2 काम को छोटेछोटे हिस्सों में बांटे:-

कई बार किसी बड़े काम को देखकर भी डर लगता है कि यह काम पूरा हो पाएगा या नहीं। अगर ऐसा लगें, तो काम को छोटेछोटे हिस्सों में बांट लें, ऐसा करने से वही काम आसान हो जायेगा। धीरेधीरे सभी कामों को समय पर पूरा करें। जैसे- जैसे काम पूरा होगा आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा और आलस दूर होता जाएगा।

3 काम को दूसरे दिन पर टालें:-

लोग अक्सर आज के काम को कल के लिए टाल देते हैं। लेकिन यह आदत धीरे-धीरे एक लत बन जाती है और फिर यही लत आलस का रुप लेती है। अगर आप इससे बचना चाहते हैं, तो आज के काम को कल पर टालना छोड़ दें। हो सकें तो सारे काम आज ही पूरा करें।

4 काम को समझें बोझ:-

कई बार आलस्य की वजह से अपने काम को बोझ मानने लगते हैं। ऐसा करने से काम पूरी तरह से रुक जाता है। लेकिन अगर आपको अपना काम काफी बड़ा लग रहा है, तो उससे मुंह ना मोड़ें बल्कि उसे करने की कोशिश करें। पॉज़िटिव (positive) सोच लेकर काम करने से आप कई हद तक आलस से छुटकारा पा सकते हैं।

5 हमेशा पॉजिटिव सोचे:-

जब भी आलस पास आये, तो मन में पॉज़िटिव सोच लाये। अगर आप पॉज़िटिव सोचने लगेंगे, तो नकारात्मक सोच की आलस दूर होगी। खुद पॉज़िटिव रखने के लिये हमेशा कोई संगीत सुने या मोटिवेशन किताबे पढ़ें।

6 खानपान रखें संतुलित:-

सुबह समय पर पेट भर नाश्ता करने से एनर्जी बनी रहती है। दोपहर और रात को डिनर थोड़ा हल्का की करने से थकान नहीं होती और आलस नहीं होता।

7 मेडिटेशन करें:-

रोज़ केवल 10 – 15 मिनट तक मेडिटेशन (meditation) या योगा करने से थकान दूर रहती है। मन और दिमाग दोनों सेहतमंद रहते हैं।

8 समय पर सोएं:-

अक्सर कई लोग घंटों तक टीवी या सोशल मीडिया देखते हैं। जिस कारण उन्हें नींद नहीं आती और नींद का रुटीन बिगड़ जाता है, जिससे स्वास्थ्य पर भी काफी असर पड़ता है। नींद से जुड़ी यह आदतें शरीर में आलस्य को बढ़ा देती हैं। दिन भर के काम के बाद शरीर को आराम देना ज़रुरी होता है। इसलिए अपने शरीर को आलस से दूर रखने के लिए समय पर सोएं।

9 खाने में हल्की डाइट शामिल करें:-

भाग-दौड़ भरी जिंदगी में बहुत जरुरी है सही खाने को प्रतिदिन अपनी दिनचर्या में लाना, अगर हम अच्छा खाएंगे तभी तो हम स्वस्थ रहेंगे और अपने आलस्य को अपनी दिनचर्या से दूर करेंगे |

10 एक समय पर एक ही काम करे:-

कोशिश करे एक समय पर एक ही कार्य करे इससे आपको बहुत जल्दी थकान का आभास नहीं होगा, और आप अपने कार्यो के लिए ज्यादा समय निकल पाएंगे |

11 कार्य के फायदे के बारे में सोचे :-

कार्य के परिणाम के बारे में सोचे हमेशा जब भी आपको आलस का अनुभव हो, आप उस कार्य के फायदे के बारे में कुछ समय निकल कर सोच ले इससे क्या फायदा होगा, और आपके अंदर उस कार्य को करने का मन हो जाएगा |

12 समय ख़राब करे :-

समय धन है इसलिए उसे ख़राब नहीं करना चाहिए जितना हो सके अपने कार्य को समय पर कर लेना चाहिए I जब आपको आलस्य आए आपको सोचना चाहिए की कितना समय आपका आलस्य के कारण ख़राब हो रहा है जिसका उपयोग आप किसी अच्छी जगह कर सकते है |


अपनी राय पोस्ट करें

ज्यादा से ज्यादा 0/300 शब्दों