नमस्कार मित्रों ! आप अपने जिस सवाल का जवाब ढूंढते हुए इस लेख तक आए हैं, उसका जवाब आपको जरूर मिलेगा।जी हां ! आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। हम जानते हैं कि आप अपने जीवन में किसी न किसी डर से परेशान हैं और उस पर काबू पाकर उसे हराना चाहते हैं। अपने डर पर जीत हासिल करने का आपका यह फैसला काबिले तारीफ़ है और आपके इसी हौसले को आगे बढ़ाने के लिए हमने यह लेख लिखा है।तो आइए सबसे पहले बात करें कि डर आखिर है क्या? मित्रों, मनुष्य के अंदर कई सारी भावनाएं होती हैं जैसे...

View more

सुबह की नींद किसे प्यारी नहीं होती ? सुबह की नींद का मजा ही कुछ और होता है। खिड़की से आती ताजा ठंडी हवाएं और शांति , मानो हमें सोते रहने को कहती हैं और इस वातावरण में हमारा मन चादर ओढ़ कर चैन की नींद लेने का करता है ।यदि हम सुबह उठना चाह रहे हो, या फिर हमारे कोई जरूरी काम हो, तब भी हम देर तक सोना ही पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यदि आप देर तक सोने के विचार को त्याग कर कोशिश करें और सुबह जल्दी उठे तो इससे आपको एक...

View more

सचिन रमेश तेंदुलकर एक ऐसा नाम है, जिससे न केवल भारत में, बल्कि पूरी दुनिया में बच्चों से लेकर बूढ़े तक वाक़िफ़ हैं। जब-जब क्रिकेट की बात आती है, तब - तब सचिन तेंदुलकर का नाम जरूर लिया जाता है। क्रिकेट की चर्चा सचिन तेंदुलकर के नाम के बिना हमेशा अधूरी रहेगी। या फिर यह कहें कि सचिन के बिना क्रिकेट अधूरा है, तो यह भी कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। भारतीय क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर का योगदान अतुलनीय एवं अद्वितीय है। अपने बेहतरीन प्रदर्शन से उन्होंने न सिर्फ पूरी दुनिया में भारतीय क्रिकेट टीम का लोहा मनवाया, बल्कि कई ऐसे...

View more

सफलता किसकी चाहत नहीं होती? परंतु जीवन के किसी न किसी मोड़ पर हमें असफलताओं से दो-चार होना ही पड़ता है। असफलता चाहे बड़ी हो या छोटी, निराशा अवश्य होती है। लेकिन जरूरत है इस वक्त खुद को संभाल कर असफलता से लड़ने और एक बार फिर सफलता की ओर अपने कदम बढ़ाने की। यदि आप भी कभी असफल हुए हो तो मन में नए उत्साह के साथ असफलता से सफलता की ओर जाने के इस सफर में हमारे साथ चलिए। यह लेख केवल आपके लिए ही नहीं, बल्कि उन सभी लोगों के लिए उपयोगी साबित होगा जो अपने जीवन...

View more

मित्रों, आज का लेख बहुत विशेष है। आज के लेख में हम और आप मिलकर अपने व्यक्तित्व में कुछ सकारात्मक सुधार लाने का प्रयास करेंगे। लेकिन इससे पहले हमारे पास कुछ सवाल हैं जिन्हें आपको पढ़ना चाहिए। मित्रों, क्या आपके साथ भी ऐसा होता है कि आप बहुत जल्दी उत्तेजित हो जाते हैं? या फिर आप किसी के द्वारा कहे गए कड़वे शब्दों को सहन नहीं कर पाते ?या अपनी आलोचना होती देख आप क्रोध से भर जाते हैं? आप में से कई लोग ऐसे होंगे जिनका इन प्रश्नों से सरोकार होगा। क्योंकि हममें से कई इस परिस्थिति से दो-चार...

View more

दोस्तों, शीर्षक पढ़कर आप जान गए होंगे कि आज की चर्चा का विषय "दिनचर्या" है। गौरतलब है कि व्यक्ति की दिनचर्या उसके पूरे जीवन की रूपरेखा तय करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। लेकिन इस तथ्य पर विरले ही लोगों का ध्यान जाता है। आज इसी तथ्य को उजागर करने के लिए हम आपके सामने यह लेख लेकर आए हैं। तो चलिए सबसे पहले यह जानते हैं कि आखिर दिनचर्या होती क्या है? दोस्तों, हम जो कार्य नित्य प्रतिदिन करते हैं, वह हमारी दिनचर्या कहलाती है। सुबह से लेकर रात तक के वह सभी कार्य, जो हम लगभग रोज...

View more

" धैर्य बहुत ही महत्वपूर्ण है। बूंद-बूंद करके ही जग भरता है।" यह प्रसिद्ध विचार संसार को अपने ज्ञान से मार्गदर्शन देने वाले महात्मा बुद्ध का है। अपने इस कथन में महात्मा बुद्ध ने बहुत महत्वपूर्ण बात पर प्रकाश डाला है। यहां उन्होंने बताया है कि किसी भी कार्य को संपन्न होने में समय लगता है। अर्थात लक्ष्य की प्राप्ति की प्रक्रिया ऐसी है, जिसमे एक निश्चित समय लगता है। मंजिल तक पहुंचने और सफलता पाने तक के इंतजार में वह गुण जो सबसे महत्वपूर्ण है, वह है संयम। जी हां मित्रों, धैर्य, धीरज, या संयम ही वह गुण है,...

View more

नमस्कार मित्रों! आज के लेख में हम "विद्यार्थी जीवन" पर चर्चा कर रहे हैं। विद्यार्थी जीवन हमारे जीवन के सबसे महत्वपूर्ण चरणों में से एक है। यही वह चरण है, जहां व्यक्ति के जीवन की दिशा एवं दशा तय होती है। अतः विद्यार्थी जीवन में ज्ञान अर्जित करने एवं जीवन के आवश्यक मूल्यों को सीखने पर ज़ोर दिया जाता है। ज्ञान प्राप्ति, रीति का ज्ञान, नैतिक मूल्य इत्यादि विद्यार्थी जीवन की प्राथमिकता होते हैं। क्योंकि यही ज्ञान एवं यही मूल्य आगे जाकर व्यक्ति के चरित्र का निर्माण करते हैं और उन्हें सफल बनाते हैं। इसीलिए यह अत्यंत आवश्यक हो जाता...

View more

इस लेख को शुरू करने से पहले हमने आपके लिए कुछ वाक्य लिखे हैं। इन्हें ध्यान से पढ़ें। "आज मन नहीं कर रहा।" "मुझसे यह नहीं हो पाएगा।" "कहीं मैं असफल हो गया तो क्या होगा? इस काम को छोड़ देना चाहिए।""बाद में कर लूँगा।"इन सभी वाक्यों में एक बात समान है। यह सभी वाक्य किसी न किसी तरीके से किसी काम को टालने की बात कर रहे हैं या उस काम के प्रति व्यक्ति की अनिच्छा को दर्शा रहे हैं। क्या आपकी बोलचाल में भी इस तरह के वाक्य शामिल हैं? क्या आप अक्सर इनका प्रयोग करते हैं? यदि...

View more

हर व्यक्ति जिंदगी में कई गलतिया करता है। दुनिया में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जो बिना असफल हुए सफल हुआ हो। जो कर्म करता है वही गलतिया करता है। आपने यदि कोई गलती नहीं की है तो इसका अर्थ यह है कि आपने कभी कुछ नया करने और नया सीखने की कोशिश ही नहीं की है। यदि लगातार प्रयास किया जाए तो असफलता भी सफलता में बदल जाती है। लेकिन सबसे अधिक जरुरत इस बात की है कि हम अपनी गलतियों से लगातार सीखते रहे और सफल होने की कोशिश करते रहे। असफलता एक ऐसी सीढी है जिस पर...

View more

हम सभी सफल और सुखी जिंदगी जीना चाहते है। हम सभी के कई लक्ष्य होते है जिन्हे हम प्राप्त करना चाहते है। ये लक्ष्य घर, परिवार, पढाई, और बिज़नेस आदि से सम्बंधित होते है। बिना सफलता की मानसिकता के लक्ष्य को प्राप्त करना असंभव है। यदि आप सफलता की मानसिकता बना लेंगे तो आपको लक्ष्य प्राप्त करने में आसानी होगी और आप कम समय में सफल हो जायेंगे। आप अपने लिए नए अवसर बना पाएंगे और हो सकता है कि आप अपने लक्ष्य से भी अधिक सफल हो जाए। सफल होने की मानसिकता बनाये रखने के लिए कुछ बातो का...

View more

प्रेरणा एक ऐसा कारण है जो लोगों को अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए तैयार करती है। मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। वह अपनी सोच और विचारों के साथ जीता है। उसे कहीं ना कहीं से जाने अनजाने में प्रेरणा जरूर मिलती है। वह दोस्तों से रिश्तेदारों से पड़ोसियों से समाचार पत्र और पत्रिकाओं से या टीवी आदि से प्रेरणा प्राप्त करता ही रहता है। प्रेरणा असफल व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है। प्रेरणा हमें हमारे लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रेरित करती है। प्रेरणा व्यक्ति की सोच और विचारों को बदल देती है। वह अपने...

View more

नमस्कार पाठकों! आज हम क्रोध पर चर्चा कर रहे हैं। हम सभी जानते हैं कि क्रोध एक ऐसा भाव है, जिसमें व्यक्ति के सोचने एवं विचार करने की शक्ति क्षीण हो जाती है एवं वह इस वेग में कई अनुचित कार्य कर जाता है। क्रोध में आने पर मनुष्य सामान्य स्थिति में नहीं रहता और इसी कारण वह बहुत कुछ ऐसा बोल अथवा कर देता है जो उसे नहीं करना चाहिए। क्रोध के कारण हमारी मानसिक शांति तो भंग होती ही है, साथ ही हमारे संबंधों के ऊपर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। ऐसा नहीं है कि क्रोध के इन...

View more

आत्म सम्मान उस विश्वास को कहा जाता है जो आप खुद पर करते हैं और पूरी दुनिया को दिखाते है। दूसरे शब्दों में यह कहा जा सकता है कि आत्मसम्मान उस विश्वास को कहा जा सकता है जो आप किसी काम को करने में उपयोग करते हैं। आप स्वयं यह निश्चित करते हैं कि किसी कार्य को करने में आप कितने सक्षम हैं और आप अपनी भावनाओ पर कैसे नियंत्रण करते हैं। आत्म सम्मान मनोविज्ञान में उपयोग किया जाने वाला एक शब्द है जो व्यक्ति की भावनाओं को दर्शाता है। यह आपके प्रति एक दृढ नजरिया और दृष्टिकोण है। आत्म...

View more

आज के समय में हर व्यक्ति चाहता है कि वह आकर्षक दिखें, सभी लोग उससे प्रभावित हो और सभी उसको पसंद करे। लेकिन ऐसा हर कोई नहीं कर पाता है क्योंकि केवल अच्छा दिखना या सुंदर होना ही लोगों को आकर्षित नहीं करता है बल्कि व्यवहार का भी अच्छा होना जरूरी होता है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही उपाय जिनके द्वारा हम लोगों को आकर्षित कर सकते है। 1) हमेशा हंसकर बात करे और अच्छा बोले:-अपने चेहरे पर हमेशा मुस्कान रखें। हंसते हुए चेहरे को सभी लोग पसंद करते हैं, वही उदास चेहरे को कोई भी पसंद नहीं करता...

View more

अपने शरीर और मन को स्वस्थ और तंदुरुस्त रखने के लिए अच्छी नींद का होना बहुत जरूरी है। अगर आप सही और पूरी नींद लेते हैं तो आपको कभी भी थकान नहीं होगी और आपका दिन भी अच्छा जाएगा। मेडिकल साइंस के अनुसार पूरी नींद का होना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। हमें प्रतिदिन सात से नौ घंटे की नींद जरूर लेना चाहिए। यदि पूरी नींद नहीं ली जाए तो कई प्रकार की समस्याएं आ सकती है। आइये जानते है कि पूरी नींद लेना क्यों जरुरी है - 1) मानसिक शांति के लिए जरुरी है :-अच्छी और पूरी...

View more

आज के समय में सफलता प्राप्त करने के अवसर सीमित है। यदि आप सफल होना चाहते हैं तो आपको इन अवसर का फायदा उठाना जरूरी होता है। जो लोग अवसर का फायदा उठाते हैं वे लोग आगे बढ़ जाते हैं और जो लोग मेहनत करने से बचते हैं वह पीछे रह जाते हैं। इसलिए यदि हमें जिंदगी में सफलता प्राप्त करना है तो हमें आलस को छोड़कर मेहनत करना चाहिए। इस लेख के माध्यम से आपको आलस को दूर करने के उपाय बताए गए हैं जिन्हें अपनाकर आप सफलता प्राप्त कर सकते हैं –1) नींद पूरी ले:- आलस को दूर...

View more

हम जिंदगी में जैसा सोचते हैं वैसा ही हो यह जरूरी नहीं है। जिंदगी में कुछ अच्छा होता है तो बुरा ही होता है। हमारे ना चाहते हुए भी बुरा वक्त आ जाता है ऐसे समय में सबसे अधिक जरूरत इस बात की होती है कि हम परिस्थितियों से बिल्कुल नहीं घबराए और हमेशा सकारात्मक बने रखें। यदि हम सकारात्मक बने रहेंगे तो हम सभी मुश्किलों का सामना हिम्मत और ताकत से कर पाएंगे। इस प्रकार सकरात्मक होकर हम बुरे वक्त को अच्छे वक्त में भी बदल सकते हैं इसलिए हमें सबसे अधिक जरूरत होती है सकारात्मक रहने की। इस...

View more

आज प्रत्येक व्यक्ति अच्छी नौकरी चाहता है नौकरी सरकारी या प्राइवेट दोनों नौकरियों के लिए सामान्य ज्ञान का अच्छा होना बहुत जरूरी होता है। आज के इस प्रतियोगिता के दौर में सामान्य ज्ञान को लगभग सभी परीक्षाओं में पूंछा जाता है। जैसे प्राइवेट या गवर्नमेंट बैंक, एसएससी, रेलवे आदि सभी परीक्षाओं में चयन होने के लिए अच्छे सामान्य ज्ञान की जरूरत होती है। इसलिए हमें सामान्य ज्ञान पर अधिक ध्यान देना चाहिए। सामान्य ज्ञान कई प्रकार से बढ़ाया जा सकता है। इसे बढाने के प्रमुख माध्यम है – 1) किताबे पढ़ना :-किताबें पढ़ना सामान्य ज्ञान बढ़ाने का एक बहुत अच्छा...

View more

प्रत्येक व्यक्ति जिंदगी में सफल होना चाहता है और स्वस्थ रहना चाहता है। जिंदगी में सफल होना कई बातों पर निर्भर करता है जैसे परिश्रम करना, स्वस्थ रहना, खान पान, दिनचर्या, काम करने का तरीका आदि ऎसे कारक है जो आपकी जिंदगी पर सीधा प्रभाव डालते है। इन्ही कारणों में से एक प्रमुख कारण है आप की दिनचर्या। हम दिन भर में जो भी कार्य करते है उसे ही दिनचर्या कहते है। दिनचर्या सुबह उठने से शुरू होती है और रात को सोने तक चलती है। सभी की दिनचर्या अलग होती है जो उनकी उम्र, उनके कार्य पर निर्भर करती...

View more