गुस्से को कैसे काबू में करे -9 ट्रिक्स

गुस्से को कैसे काबू में करे -9 ट्रिक्स

  

गुस्सा इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन है, गुस्से में इंसान की बुद्धि भ्रष्ट हो जाती है वह अपशब्दों का प्रयोग करता है इससे रिश्तो में भी कड़वाहट आती है | गुस्से में कई बार इंसान जिंदगी के ऐसे कठिन फैसले ले लेता है जो गलत होते है जिसका पश्याताप उसे करना पड़ता है | व्यक्ति के 79% काम सिर्फ और सिर्फ अपने गुस्से की वजह से ही बिगड़ते है |आमतौर पर व्यक्ति को गुस्सा तभी आता है जब उसे उसके मन के मुताबिक कुछ मिले। गुस्सा करने से हमारे शरीर को बहुत सरे नुकसान होते है जैसे -तनाव, नींद नहीं आना, सिरदर्द, सोचने की शक्ति कमजोर होना, ब्लड प्रेशर बढ़ना आदि |

सबसे ज्यादा नुकसान गुस्से का हमारे स्वस्थ पर पड़ता है इसलिए जितना हो सके इसको काबू में रखना चाहिए, देखते है कुछ तरीके जिससे हम अपने गुस्से को काबू कर सकते है :-

व्यायाम और योग करें:-

हर दिन कम से कम 45 मिनट का व्यायाम करना चाहिए। सूर्य नमस्कार, अनुलोम विलोम, कपालभाति जैसे योगा आसन और प्राणायाम करने से बहुत मदद मिलेगी सुबह टहलने के लिए जाना भी बहुत अच्छा विकल्प है। अपने तनाव (Stress) को कम करने के लिए, तैराकी (स्विमिंग) भी कर सकते हैं जिससे आपको बहुत मदद मिलेगी और गुस्सा कम आएगा।

संगीत सुने:-

कई लोग गुस्सा आने पर अपने मनपसंद गीत सुनते हैं। इस विधि कोम्युसिक थेरेपी” (Music therapy) कहते है। यह युक्ति भी बहुत अच्छी है। इस तरह आप आसानी से अपने गुस्से को काबू कर सकते हैं। साइकैटरिस्ट भी इस तरह का परामर्श देते हैं। म्यूजिक आपको जितना सुकून देता है उतना ही यह आपके मन को शांत कर देता है जिससे आपको एक बहुत बढ़िया फीलिंग (feeling) आती है और आप फिर से तरोताजा हो जाते हो |

स्वयं को कुछ समय दे :-

पुरे दिन मे से कुछ समय अपने लिए निकले और वो समय एकांत में बिताए खुद के बारे में सोचे अपने सारे काम के बारे में समझे, शांति से कुछ समय निकलने से आपके दिमाग को समय मिलता है आराम करने का, जब तक आपका दिमाग आराम नहीं करेगा आपका गुस्सा खत्म नहीं होगा |

भरपूर नींद ले:-

गुस्सा तभी आता है जब तनाव बहुत अधिक बढ़ जाता है। गुस्से का सीधा संबंध तनाव से है। इसलिए पूरी नींद लें। नींद पूरी लेना आपकी सेहत को बढ़िया करता है | कम नींद लेने से आप खुद को कमजोर महसूस करते हो बल्कि जब आप पूरी गहरी नींद लेते हो तब आप खुद को फ्रेश फील (fresh feel) करते हो जिससे आपकी काम करने की प्रोडक्टिविटी भी बढ़ जाती है |

नशीले पदार्थों का सेवन बंद करें:-

शराब, धूम्रपान और दूसरे नशीले पदार्थों का सेवन आपको तुरंत ही बंद कर देना चाहिए। यह सभी चीजें मस्तिष्क को उत्तेजित करती हैं। यदि आपके मन में लंबे समय से कोई उलझन या समस्या चल रही है तो आप अपने मित्रों, रिश्तेदारों और दूसरे लोगों को बताकर अपना मन हल्का कर सकते हैं।

गहरी और लंबी सांसे लें:-

जब भी आपको बहुत गुस्सा आता है तो तुरंत ही लंबी और गहरी सांसे लेनी चाहिए जिससे आपके मस्तिष्क में अधिक से अधिक ऑक्सीजन जा सके। गहरी साँसे लेना वैसे भी एक बहुत ही बढ़िया आदत है जो हमारे शरीर के लिए सही होता है | इससे हम शांत होते है और बाकी की फ़ालतू की चीजे हमसे दूर चली जाती है |

आनुवंशिक कारण :-

बहुत अधिक सम्भावना है की गुस्सा आने का आनुवंशिक कारण हो सकता है। यदि आप के माता पिता, दादा-दादी या पूर्वज बहुत गुस्से वाले थे तो बच्चों में गुस्सा होने का गुण प्राकृतिक रूप से जाता है। इस तरह इस समस्या को दूर करना बहुत कठिन हो सकता है। इस तरह की समस्या को सुलझाने के लिए आपको धैर्य से काम लेना होगा|

खाने-पिने :-

क्या आपने देखा है कि कुछ दिनों में आप शांत और आराम महसूस करते हैं, जबकि दूसरे दिनों में, आप बेचैन रहते हैं? ऐसा इसलिए है क्योंकि आप जो खाना खाते हैं वह आपके मन और भावनाओं को बहुत प्रभावित करता है। कुछ प्रकार के भोजन मन और शरीर में बेचैनी और तनाव लाते हैं। इस प्रकार के भोजन में मुख्य रूप से मांसाहारी, मसालेदार और तैलीय भोजन सम्मिलित हैं |

उन दिनों में जब आप प्रतिक्रियाशील महसूस कर रहे हैं, इस तरह के भोजन से बचें और स्वयं का निरीक्षण करें। संभावना है कि आप भीतर बदलाव पाएंगे। क्रोध को और समय के साथ भावनाओं की तीव्रता कम करने के स्थायी तरीकों में से एक, स्वस्थ भोजन करना है |

खुश रहे :-

सबसे अच्छा तरीका है गुस्से पर काबू पाने का आप जितना खुश रहेंगे आपके दिमाग की उतनी कसरत होगी, इससे गुस्से पर काबू पाया जा सकता है या गुस्से को आने से रोका जा सकता है |

निष्कर्ष :-

गुस्सा आना आज के समय की बहुत ही आम समस्या है। कई लोग इस समस्या से पीढ़ित होते हैं। परन्तु हमें शांत दिमाग से सभी काम को करना चाहिए और गुस्से पर काबू रखना चाहिए |


अपनी राय पोस्ट करें

न्यूनतम 500/500 शब्दों