करियर के मार्ग में आने वाली 8 चुनौतियां

करियर के मार्ग में आने वाली 8 चुनौतियां



हमारी जिंदगी में हमारा करियर सबसे महत्वपूर्ण होता है | हम सभी एक अच्छे कल और बेहतर भविष्य की कामना करते है |जिंदगी के मार्ग में कई तरह की बाधाये आती है और उतर-चढ़ाव भी आते रहते है |हर माता-पिता अच्छी शिक्षा और अच्छे संस्कारो के साथ अपने बच्चे के बेहतर भविष्य की कल्पना करते है | इतना आसान नहीं होता हमारे करियर को चुनना कई तरह की परेशानिया आती है इस रस्ते में, जिनका सामना हमें करते हुए आगे बढ़ना होता है| आज का समय बहुत चुनौतीपूर्ण है हमारे द्वारा निर्धारित लक्ष्य इतना आसान नहीं है | भारत में ज्यादातर बच्चे आत्महत्या करते है उसकी एक ही वजह होती है उनका करियर | परिवार क्या सोचेगा, समाज क्या सोचेगा हम इतनी सी उम्र में बच्चे को यह बता देते है | निराशा बच्चो के अंदर आज कल सबसे ज्यादा देखि जा रही है करियर को लेके |आइये देखते है कुछ चुनोतिया जो हमें करियर के मार्ग में देखने को निश्चित ही मिलती है परन्तु हम उससे निकलने का रास्ता भी देखेंगे :-

प्रतियोगिता :- आज का दौर प्रतियोगिता का ही है चारो तरह लोग आपका मुकाबला करने को तत्पर है |आपके मेहनत में जरा सी भी कमी होने पर आपको कोई भी पीछे छोड़ कर आगे निकल जाएगा | आपकी कमजोरी का फायदा उठाने के लिए लोग बैठे ही है|

आधार कमजोर होना :- हम कोई भी करियर चुनते है उसका हमें पूर्ण ज्ञान होना बहुत जरुरी होता है |अगर हमारी आधार कमजोर है तो हम सफल नहीं हो पाएंगे ये बहुत बड़ी परेशानी बन सकती है लक्ष्य प्राप्त करने में| इस स्तिथी में मेहनत ज्यादा करना पड़ सकता है |

सहनशक्ति की कमी :- सहनशक्ति की कमी बहुत बड़ी चुनौती होती है करियर में | कोई भी करियर जब हम चुनते है हमें पता नहीं होता है उसमे आने वाली परेशानियों का परन्तु जब हम चलने लगते है और परेशानियों का सामना करते करते हम हार जाते है तब हम निराश हो जाते है |

गंभीरता :- NASSCOM की हर साल की रिपोर्ट के अनुसार 30 लाख से ज्यादा ग्रेजुएट और पोस्टग्रैजुएट लोग निकलते है उसमे से सिर्फ 35% लोग जॉब करने योग्य है |जिसमे से सिर्फ 20% लोग अपनी नौकरी से खुश है|सरकार शिक्षा और करियर के लिए कई योजनाए बना रही है फिर भी हमारी युवा पीढ़ी मानसिक तनाव में है हमारे देश में बेरोजगारी तेजी से बढ़ती जा रही है उसका एक कारण करियर का सही चुनाव नहीं होता है और अपने करियर को गंभीरता से नहीं लेते है|

गलत रास्ता चुनना :- कभी कभी बच्चे वह काम करते है जो उनका परम मित्र करता है |बच्चो को समझ नहीं होती है वह जल्दबाजी में ऐसा निर्णय कर लेते है जो उनके करियर में परेशानी उत्पन्न कर देता है |हमने भी अपने मित्र के कहने पर शायद 11TH में विषय निर्धारित किया था क्युकी हम अपने अच्छे मित्र से दूर नहीं जाना चाहते है |और कभी कभी हमारे माता-पिता उनके अनुसार उनका निर्धारित विषय हम पर थोप देते है ऐसे निर्णय ही आने वाले समय में हमे करियर के रास्ते में परेशानी उत्पन्न करती है |

संयम रखे :- अपने करियर में संयम का बहोत महत्व होता है | हम कोई भी रास्ता चुनते है तब हमें ज्ञात होना चाहिए राह आसान नहीं है उसने परेशानियों का होना निश्चित है और हमें हार नहीं मानते हुए संयम से, मेहनत करते रहना चाहिए | रास्ते में आने वाली सभी परेशानियों का डट कर सामना करे |समय अच्छा भी आता है और बुरा भी, कभी अपने द्वारा लिए गए करियर निर्धारण पर संदेह करे और अपनी मेहनत पर विस्वास करे |

दुसरो के बारे में सोचना :- आज कल माता-पिता अपने बच्चे की तुलना दूसरे बच्चो से करते है यह सत्य घटना भी है और कई धारावाहिक और फिल्मो में भी देखे ही है हमने | पड़ोस के बच्चे के 99 अंक आए तुम्हारे क्यों नहीं दोनों एक ही स्कूल में हो, इतने बड़े स्कूल में पड़ा रहे है , ट्यूशन भी जाते हो स्कूल भी जाते हो करते क्या हो, पढ़ाई में ध्यान नहीं है ? ये सब बच्चे अपने घर से सुनते है | बच्चो पर इतना प्रेशर डाला जाता है समाज का, परिवार का की वह हताश हो जाते है, निराश हो जाते है |बच्चे भगवान का रूप होते है वो इस संसार की मोह माया से दूर होते है सांसारिक चीज उन्हें घर से ही सिखने को मिलती है |करियर सिर्फ पढ़ाई में ही नहीं होता है खेल में होता है , गाने-बजने में होता है , लेखन में होता है , अच्छे वक्ता के रूप में हो सकता है जरुरी है की माता-पिता अपने बच्चो का करिअर उनकी प्रतिभा देख कर करे |

स्पष्टता की कमी :- सभी सुविधाओं के बाबजूद हम पीछे है ऐसा सिर्फ इसलिए है की बच्चो में बचपन से ही स्पष्टता की कमी होती है सभी का बोझ लेकर चलते है | इस बबंडर में वह खुद की प्रतिभा को पहचान ही नहीं पते है |


अपनी राय पोस्ट करें

न्यूनतम 500/500 शब्दों