Meenal Jain
151 pts
Rising Star

Technical writer and hindi writer

i am an assistant professor and article writer

विपत्ति को अवसर में बदले.jpg

किसी राज्य में एक राजा राज करता था। उस राज्य की प्रजा बहुत खुश थी। राजा राज्य की जानकारी निकालने के लिए वेश बदलकर निकलता था जिससे उसे राज्य के बारे में वास्तविक जानकारी मिल सके। एक बार राजा ने राज्य के प्रमुख मार्ग पर एक बड़ा पत्थर रखवा दिया और खुद छिपकर देखने लगा।

राजा ने देखा कि कई लोग उस मार्ग से निकल रहे है। कुछ लोग उस पत्थर से बचकर निकल गए तो कुछ लोग पत्थर से ठोकर खाकर गिर गए लेकिन किसी भी व्यक्ति ने उस पत्थर को हटाने का प्रयास नहीं किया। कुछ लोगो ने पत्थर के लिए मार्ग बनाने वाले को जिम्मेदार बताया तो कुछ लोगो ने पत्थर के लिए राजा को दोष दिया।

तभी उस मार्ग से एक व्यक्ति निकला। वह व्यक्ति पेशे से कारीगर था और बहुत दिनों से बेरोजगार था। उसने कई दिनों से खाना भी नहीं खाया था। उस कारीगर ने उस पत्थर को हटाने की कोशिश की और काफी मेहनत के बाद वह कारीगर उस पत्थर को किनारे रखने में सफल हो गया। तभी पत्थर को देखकर कारीगर आश्चर्यचकित रह गया क्योकि वह पत्थर बहुत कीमती था।

उस पत्थर का उपयोग खूबसूरत नक्काशी करने के लिए किया जाता था। कारीगर ने छैनी और हथोड़े की सहायता से कुछ ही समय में उस पत्थर को एक खूबसूरत प्रतिमा के रूप में बदल दिया। राजा ये सब देखकर बहुत खुश हुआ और उसने कारीगर को अपने महल में नौकरी दे दी।

इस कहानी से हमें यह प्रेरणा मिलती है कि विपरीत परिस्थिति होने पर भी हमें निराश नहीं होना चाहिए और लगातार प्रयास करते रहने चाहिए। यदि हम विपत्ति में भी अवसर ढूढेंगे तो हमें सफलता जरूर मिलेगी।

Posts

Opinions

No record found.

My Topic

My Group

0 comment

No Comments Yet