Meenal Jain
151 pts
Rising Star

Technical writer and hindi writer

i am an assistant professor and article writer

छोटा सा प्रयास बड़ी समस्या हल कर सकता है.jpg

एक गांव में मतिराम नाम के एक चरवाहा था। वह बहुत गरीब था और बकरियों का दूध बेचकर अपने जीविका चलाता था। मतिराम प्रतिदिन बकरिया चराने जंगल जाया करता था। एक दिन जब वह बकरियों को जंगल में चराने ले जा रहा था तो एक बड़े गडडे में दो तीन बकरिया गिर गयी।

मतिराम ने उन बकरियों को निकलने का बहुत प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो पाया। जंगल सुनसान था इसलिए उसे मदद के लिए कोई भी नहीं दिख रहा था। शाम हो रही थी और कुछ ही देर में अँधेरा होने वाला था। मतिराम को कोई उपाय नहीं सूझ रहा था कि बकरियों को कैसे निकला जाये।

तभी पास में पड़े मिट्टी के ढेर को देखकर उसके दिमाग में एक विचार आया। वह मिटटी के ढेर को सरका कर गडडे के पास ले आया और उसने धीरे-धीरे उस मिट्टी को एक किनारे से गडडे में डालना शुरू कर दिया। इस प्रकार गड्ढा धीरे-धीरे भरने लगा और बकरिया उस पर चढ़ गई। कुछ ही देर में बकरिया मिट्टी के ढेर पर चढ़कर उस गड्ढे से बाहर आ गयी मतिराम खुश हो गया और सभी बकरियों को लेकर वापस अपने घर लौट गया।

इस कहानी से हमें यह प्रेरणा मिलती है कि कोई भी समस्या आने पर हमें शांत दिमाग से उसे हल करने की कोशिश करना चाहिए। कई बार बड़ी समस्याएं छोटे से प्रयास से हल हो जाती है। इसलिए हमें आत्मविशवास बनाये रखना चाहिए और प्रयास करते रहना चाहिए।

Posts

Opinions

No record found.

My Topic

My Group

0 comment

No Comments Yet