Tanishka Sharma
211 pts
Quick Learner

माइक्रोन्यूट्रिएंट्स वह न्यूट्रिएंट्स है जिनकी आवश्यकता हमारे शरीर को कम मात्रा में होती है । मगर इनकी जरूरत की मात्रा का कम होना इनकी अनावश्यकता को सिद्ध नहीं करता । भले ही इनकी आवश्यक मात्रा अन्य नुट्रिएंट्स कम क्यों ना हो मगर हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए यह मैक्रोन्यूट्रिएंट जितने ही जरूरी है । इनकी कमी होने से भी शरीर का स्वास्थ्य संतुलन बिगड़ सकता है । आइए जाने कुछ बुनियादी माइक्रोन्यूट्रिएंट्स के बारे में, जो एक स्वस्थ शरीर और जीवन का आधार हैं ।

विटामिन :

ताजे फलों और सब्जियों से हमें जरूरी विटामिन मिलते हैं । विटामिन्स शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाते हैं। विटामिन ए बी सी एवं के कुछ ऐसे विटामिन है जो हमारे शरीर को बहुत प्रभावित करते हैं । विटामिन ए ना होने के कारण हमारी आंखों पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है वह हमें नाइट ब्लाइंडनेस यानी रात में ना देख पाने की परेशानी हो सकती है । विटामिन के हमारे खून को पतला व गाढ़ा रखने में सहायक होता है । विटामिन सी की कमी के कारण हमें खासी जुखाम व निमोनिया हो सकता है ।

आयरन

आयरन ही वो खनिज है जिसकी सहायता से रक्त में मौजूद हिमोग्लोबिन ऑक्सीजन को हमारे शरीर में संचारित करता है । आयरन हमारे सम्पूर्ण शरीर में ये ऑक्सीजन पहुँचाने का काम करता है ।

जिंक

आयरन और कैल्शियम की तरह शरीर के कार्य के लिए बहुत जरूरी मिनरल है। जिंक से हमें कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं। यह हमारी रोग-प्रतिरोधक प्रणाली, त्वचा के स्वास्थ्य तथा जख्मों के उपचार में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

मैग्नीशियम:

खून में मैग्नीशियम की बहुत कम मात्रा में रोकथाम और उपचार के लिए उपयोग किया जाने वाला एक खनिज पूरक है। हमारे हृदय के सही तरीके से काम करने के लिए मैग्नीशियम अतिआवश्यक है ।

Posts

Opinions

No record found.

0 comment

No Comments Yet